69 लाख नौकरियों की कीमत पर 2 लाख 50 हजार करोड़ का “खाद्य सुरक्षा बिल” : कांग्रेस के शिगूफे से नौकरिया ख़तम होगी खासकर निजी क्षेत्र में ..........पढ़े और शेयर करे.....

2 views
Skip to first unread message

MahanDeshBharat

unread,
Sep 18, 2013, 1:27:35 AM9/18/13
to

69 लाख नौकरियों की कीमत पर 2 लाख 50 हजार करोड़ का “खाद्य सुरक्षा बिल” : कांग्रेस के शिगूफे से  नौकरिया ख़तम होगी खासकर निजी क्षेत्र में ..........पढ़े और शेयर करे.....

 

कांग्रेस का अनुमान है की वोट बटोरने के लिए लाये गए “खाद्य सुरक्षा बिल” पर लगभग 2,50,000 करोड़ रुपये खर्च करने होंगे दूसरी तरफ सरकार 48 लाख करोड़ के विदेशी कर्जे के 1,65,000 करोड़ की ब्याज क़िस्त न चुका पाने के कारन 500 टन सोना गिरवी रख रही है.

 

ये 2,50,000 करोड़ आयेंगे कहा से ????????????????

यह पैसा टैक्स बढाकर वसूला जायेगा यानी महगाई अभी और आनी बाकि है और मेहनत से पैसा कमा रहे लोगो की जेब से पैसा खीचकर उन लोगो पर खर्च किया जाएगा जिसे खुद सरकार की नीतियों ने गरीब बनाया है और उन्ही के गावो में सरकार ने शराब के ठेके भी खुलवा रखे है  और परिवार बरबाद हो रहे हैं.

 

69 लाख नौकरी या तो खतम हो जायेगी या 69 लाख नई नौकरी पैदा नहीं होगी !!!!!!!!!!!!!!!!!

१)      250000 करोड़ इतना राशि होती है की उससे  300 करोड़ से लेकर 25 करोड़ के करीब 1500 प्रोजेक्ट (परियोजनाए) हर साल लाये जा सकते हैं.

२)      आजकल परियोजनाओं का 25% खर्चा लगभग मजदुर्री पर खर्चा हो रहा है जिसमे मैनेजर से लेकर हाथ से काम करने वाले मजदूर शामिल हैं यानि हर साल 62500 करोड़ की मजदूरी का पैसा गायब.

३)      यानि 11 महीने काम करके औसत 12000/- महीने कमाने वाली (62500करोड़/11 महीने /12000/-प्रति महीने =48 लाख नौकरिया) 48 लाख सीधे सीधे निर्माण क्षेत्र से गायब हो जायेगी.

४)      निर्माण में लगाने वाले सभी खर्चो का औसत 55% यानि की 1,37,500 करोड़ का सामन लगेगा जिसमे गिट्टी, लोहा, सीमेंट, पेंट, लकड़ी, प्लाई, कीला, नट-बोल्ट.........आदि आदि जिसमे भी 15% मजदूरी शामिल होती हैं, इसके लिए भी 137000 x 15% =20625 करोड़ की मजदुरी ख़तम. कहने का मतलब उत्पादन क्षेत्र से (20625 करोड़ /11 महीने /9000/-प्रति महीने = 21 लाख नौकरिया) 21 लाख नौकरिया अलग से गायब हो जायेंगी.

५)      खाद्य सुरक्षा बिल  की वजह से कुल (48 लाख +21 लाख = 69 लाख) 69 लाख नौकरिया या तो पैदा नहीं होंगी या ख़तम हो जायेंगे यानी हर हालत में भारत में 69 लाख नए बेरोजगार पैदा होंगे.

६)      निर्माण क्षेत्र में कांग्रेस की वोट बैंक की राजनीति की वजह से पहले से ही इतनी मंदी छाई है और  करोडो लोगो का रोजगार छीन चुका है और आगे बहुत बुरा समय आने वाला है.

७)      250000 करोड़ का धन निर्माण क्षेत्र में लगाने से भारत देश के लिए बहुत सारी मूल भूत सुविधाओ का निर्माण तो होगा ही साथ में 250000 करोड़ से 69 लाख नई नौकरिया भी पैदा होगी जो 69 लाख परिवार X 5 आदमी प्रति परिवार = 345 लाख लोगो के जीवन में खुशी लाई जा सकती हैं.

 

युवाओं को अब “कांग्रेस मुक्त भारत” बनाने के लिए “नरेन्द्र मोदी” का खुलकर समर्थन करना चाहिए जिससे भारत की सबसे बड़ी समस्या “बेरोजगारी” को खतम किया जा सके.

--SANJAY KUMAR MAURYA

शेयर करे और लोगो को जागरुक करे...........     

  


--

(नोट : यदि आपको मेरे मेल पसंद नहीं हैं / मेल नहीं चाहिये, तो कृपया उत्तर देकर अवश्य सूचित करें) 

--संजय कुमार मौर्य, अयोध्या, फैजाबाद, उ.प्र.

(सामाजिक और प्राकृतिक अर्थशाश्त्र विश्लेषक : भारत को युवाओ के नैतिक-विकास के साथ पशुधन-कृषि-योग-आयुर्वेद-सूर्यशक्ति-जलसंरक्षण-भूसंपदा के विवेकपूर्ण  उपयोग से विश्वशक्ति बनाया जा सकता है) 

आपने स्वयं और अपने परिवार के लिए सब कुछ किया, देश के लिए भी कुछ करिये,

क्या यह देश सिर्फ उन्ही लोगो का है जो सीमाओं पर मर जाते हैं??? सोचिये...... 

Reply all
Reply to author
Forward
0 new messages