ऋग्वेद में स्वतन्त्र स्वरित का स्वरूप

14 views
Skip to first unread message

vasantkumar bhatt

unread,
Oct 16, 2021, 9:31:34 PMOct 16
to bvpar...@googlegroups.com, Navonmesha नवोन्मेष, v.k.b...@gmail.com
सम्माननीय वेदानुरागी अध्येता, 
नमस्कार ।


जात्य,  क्षैप्र,  प्रश्लिष्ट एवं अभिनिहित स्वतन्त्र स्वरित का स्वरूप एवं उसके भेद की चर्चा यहाँ प्रस्तुत की गई है ।।
वसन्त भट्ट के वन्दन 


Sent from my Samsung Galaxy smartphone.
Reply all
Reply to author
Forward
0 new messages