Google Groups

Re: [Hindi] श्रृ या शृ


Yogendra Sep 21, 2010 5:39 AM
Posted in group: हिंदी (Hindi)
संस्कृत में ‘य’, ‘व’, ‘र’, ‘ल’ अंतस्थ (semivowel) व्यंजन कहलाते हैं और इनका ह्रस्व/दीर्घ स्वरों क्रमशः ‘इ’, ‘उ’, ‘ऋ’ एवं ‘ऌ’ से  घनिष्ठ संबंध है, जिसका समूचे संस्कृत व्याकरण, खास तौर पर संधि प्रकरण, में विशेष महत्त्व है । सैद्धांतिक तौर पर य... पर इ... की मात्रा क्रमशः स्वीकार्य है, यथा यी, आदि । इन व्यंजनों की विशेषता यह है कि यि/यी आदि की ध्वनि इ/ई आदि के इतनी निकट होती है कि भेद बहुत स्पष्ट नहीं हो पाता है । शायद यही कारण है कि ऐसे शब्द अधिक नहीं हैं जिनमें यि/यी, वु/वू आदि हों । य पर इ/ई की मात्रा वाले शब्द फिर भी काफी मिलते हैं । उसके बाद व पर उ/ऊ मात्रा वाले शब्द । किंतु र पर ऋ/ॠ की मात्रा वाले शायद 4-6 शब्द ही हैं । (और ल पर ऌ/ॡ मात्रा वाले शब्द हैं भी यह नहीं मालूम ।) मैं केवल अधोलिखित से वाकिफ हूं:
(1) निर्ऋति = निर्(उपसर्ग)+ऋ+क्तिन्‌ (प्रत्यय) = (I) क्षय ..., (II) संकट ..., (III) अभिशाप, आक्रोश, (IV) मृत्यु अथवा मृत्यु की देवी ।
उपर्युक्त शब्द से ही ये शब्द निकले हैं:
(२) निर्ऋती = (I) दुर्गा, (II) दक्षिण-पश्चिमी दिशा ।
(३) नैर्ऋत्य = निर्ऋति देवता से संबंधित
और एक शब्द यह भी

(४) निर्ऋत = एक राक्षस का नाम ।

यह ध्यान दें कि संस्कृत ग्रंथों में र्+ऋ को रृ नहीं लिखा मिलता है, बल्कि इसे ऋ के ऊपर अंकित ‘रेफ’ के साथ लिखा जाता है, जैसे र्क में । लेकिन देख रहा हूं कि Unicode में यह उपलब्ध नहीं है; मैं सही टाइप नहीं कर पा रहा हूं । यह पद्धति क्यों अपनाई गयी होगी मैं नहीं कह सकता ।
- योगेन्द्र जोशी



2010/9/20 Riho Alla <alla...@gmail.com>
Concerning this statement of HIndi Wikipedia link:
रृ का हिन्दी या संस्कृत में प्रयोग नहीं होता



I think there are though some exceptions at least in Sanskrit language, where r + ṛ = rṛ are allowed, e.g. 'nirṛti'. From Monier-Williams dictionary:

nirṛti

(H3) nír-° ṛti [p= 554,2] [L=109491] f. (nír-) dissolution , destruction , calamity , evil , adversity RV. &c &c (personified as the goddess of death and corruption and often associated with mṛtyu , a-rāti &c RV. AV. VS. ; variously regarded as the wife of a-dharma , mother of bhaya , mahā-bhaya and mṛtyu [ MBh. ] or as a daughter of a-dharma and hiṃsā and mother of naraka and bhaya [ Ma1rkP. ] ; binds mortals with her cords AV. Br. &c ; is regent of the south [ AV. ] and of the asterism mūla [ Var. ])
[L=109491.1] the bottom or lower depths of the earth (as the seat of putrefaction) AV. VS. S3Br.
(H3B) nír-° ṛti [L=109491.2] m. death or the genius of death BhP.
(H3B) nír-° ṛti [L=109491.3] m. N. of a rudra MBh. Hariv. Pur.
(H3B) nír-° ṛti [L=109491.4] m. of one of the 8 vasus Hariv. (v.l. ni-kṛti)

--
आपको यह संदेश इसलिए प्राप्त हुआ क्योंकि आपने Google समूह "हिंदी (Hindi)" समूह की सदस्यता ली है.
इस समूह में पोस्ट करने के लिए, hi...@googlegroups.com को ईमेल भेजें.
इस समूह से सदस्यता समाप्त करने के लिए, hindi+un...@googlegroups.com को ईमेल करें.
और विकल्पों के लिए, http://groups.google.com/group/hindi?hl=hi पर इस समूह पर जाएं.